Home » निराश्रित शिशुओं की देखभाल की जिम्मेदारी लेना जन सेवा का सबसे अच्छा साधन,

निराश्रित शिशुओं की देखभाल की जिम्मेदारी लेना जन सेवा का सबसे अच्छा साधन,

by admin

– कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे पहुंचे सेवा भारती के मातृछाया परिसर में, यहाँ रह रहे एक शिशु को एडाप्ट किया गया अभिभावकों द्वारा,
दुर्ग/   कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे आज सेवा भारती संस्था द्वारा बोरसी में चलाये जा रहे मातृछाया परिसर में पहुंचे। यहाँ एक बच्चे को गोद लेने अभिभावक पहुंचे थे। कलेक्टर ने अभिभावक एवं बच्चे के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि बच्चे के जीवन में और आपके जीवन में भी यह बहुत शुभ क्षण है। आप बच्चे का ध्यान रखिये। खूब प्यार से रखिये, बच्चे का भविष्य बनाइये। इसमें ही आपका उज्ज्वल भविष्य भी छिपा है। बच्चे के अभिभावक दंपत्ति ने आभार व्यक्त किया। यहाँ उन्होंने संस्था की गतिविधियों की जानकारी ली। इस अवसर पर कलेक्टर ने कहा कि वे बिलासपुर में संस्था की गतिविधि देख चुके हैं। शिशु का अभिभावकत्व सबसे अच्छा अनुभव होता है। इनके साथ रहकर, इनकी शरारतों के साथ समय भी बीत जाता है और हमेशा खुशी महसूस होती है। सेवा भारती का यह कार्यक्रम बहुत महत्वपूर्ण है। हम जानते हैं कि एक शिशु का माता-पिता कितना ध्यान रखते हैं। उसे कितने केयर की जरूरत होती है। ऐसे में कोई शिशु यदि निराश्रित है तो उसकी परेशान कितनी होगी। सेवाभावी संस्थाएं इस संबंध में पहल करती हैं यह बहुत अच्छा है। किसी बच्चे को यदि योग्य अभिभावकत्व मिल जाए। अभिभावकों जैसा प्रेम, दुलार और रखरखाव मिल जाए तो उसके लिए जिंदगी की डगर आसान हो जाती है। हमेशा ऐसे मामलों में बहुत देखरेख की जरूरत होती है। निराश्रित बच्चों की फीडिंग के साथ ही उनकी भावनात्मक जरूरतों का ध्यान रखना भी बेहद महत्वपूर्ण है। इस मौके पर आमंत्रित विशेष अतिथि डाॅ. रश्मि भुरे ने भी अपने विचार व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि छोटे बच्चों को सहेजना बहुत जिम्मेदारी का कार्य है। इसके लिए समय भी समर्पित करना होता है और गहरी संवेदना भी आवश्यक है। जो सेवाभावी संस्थाएं ऐसा कार्य करती हैं उनका कार्य प्रशंसनीय है। छोटे बच्चों की बहुत सी इमोशनल जरूरतें होती हैं। इन्हें पूरा कर और बच्चे का अच्छे से ख्याल रख उसके सुखद भविष्य की नींव तैयार की जा सकती है।
अब पाँच बच्चे रह गए- संस्था निराश्रित बच्चों की देखभाल करती है। पहले संस्था के पास छह बच्चे थे। आज दंपत्ति एक बच्चे को अपने साथ ले गए। अब संस्था में पाँच बच्चे हैं। अधीक्षिका श्रीमती पूनम श्रीवास्तव ने बताया कि शासन की गाइडलाइन के मुताबिक बच्चों का हम लोग पूरा ध्यान रखते हैं। उनके स्वास्थ्य का और भावनात्मक जरूरतों का भी पूरा ध्यान रखते हैं।

Share with your Friends

Related Posts

8 comments

sklep March 10, 2024 - 8:16 pm

Wow, wonderful weblog structure! How lengthy have you been running a blog for?
you made blogging glance easy. The whole glance of your site is excellent, as smartly
as the content! You can see similar here e-commerce

Reply
najlepszy sklep March 12, 2024 - 9:51 pm

It’s awesome to visit this website and reading the views of all mates regarding this article, while I
am also eager of getting knowledge. I saw
similar here: Najlepszy sklep

Reply
sklep online March 14, 2024 - 4:37 pm

Admiring the dedication you put into your blog and in depth
information you offer. It’s good to come across a blog every once in a while that isn’t the same unwanted rehashed information.
Great read! I’ve saved your site and I’m adding your RSS feeds to
my Google account. I saw similar here: E-commerce

Reply
sklep internetowy March 17, 2024 - 10:04 am

Write more, thats all I have to say. Literally, it seems as though you relied on the video to make your point.
You obviously know what youre talking about, why waste your intelligence on just posting videos to your site when you could be giving us something
informative to read? I saw similar here: Sklep

Reply
najlepszy sklep March 24, 2024 - 1:20 pm

Good day! Do you know if they make any plugins to help with Search Engine Optimization? I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords but I’m
not seeing very good results. If you know of any please
share. Many thanks! You can read similar blog here:
Dobry sklep

Reply
Analytics & social research March 24, 2024 - 8:24 pm

It’s very interesting! If you need help, look here: ARA Agency

Reply
GSA Verified List April 3, 2024 - 1:34 pm

Hi there! Do you know if they make any plugins to assist with SEO?
I’m trying to get my blog to rank for some targeted keywords but I’m not seeing very good
results. If you know of any please share. Thank you! You can read similar blog
here: List of Backlinks

Reply
sklep internetowy April 15, 2024 - 5:48 pm

Wow, amazing blog structure! How long have you ever been running a blog for?
you made blogging look easy. The whole glance of your
web site is excellent, let alone the content material! You
can see similar here sklep

Reply

Leave a Comment